Blog

सराहा ( sarahah) app ke baare me puri jaankaari hindi me hacks tips and trick anything you want.

Sarahah App की दीवानगी ने तोड़े कई रिकॉर्ड, जानें इस ऐप के बारे में

Sarahah App की दीवानगी ने तोड़े कई रिकॉर्ड, जानें इस ऐप के बारे में

ख़ास बातें

  • सराहा एक मैसेजिंग ऐप है, जिसमें यूज़र की पहचान छिपी रहती है
  • ऐप से बिना लॉगइन किए मैसेज भेज सकते हैं
  • इस ऐप से साइबर सुरक्षा को खतरे की बातें कही जा रही हैं
पिछले एक हफ्ते और ज़्यादा समय से हम और आप देख रहे हैं कि सभी  सोशल नेटवर्किंग साइट पर सराहा नाम के एक ऐप का जादू छाया हुआ है। यह ऐप कुछ महीनों पहले लॉन्च हुआ था और मिस्त्र व सऊदी अरब जैसे देशों में यह तेजी से लोकप्रिय हो रहा है। लेकिन अब Sarahah App अचानक से भारत में सुर्खियों में आ गया है और लोगों पर इसका जादू सिर चढ़कर बोल रहा है।

सराहा ऐप क्या है?
सराहा एक ऐसा ऐप है जिससे यूज़र अपना नाम बताए बिना ही मैसेज भेज और रिसीव कर सकते हैं। ऐप बनाने वालों का कहना है कि सराहा ऐप के जरिए लोग रचनात्मक अनजान मैसेज के लिए मिलने वाले फीडबैक से सेल्फ डेवलिंग में मदद मिलती है। सराहा एक अरबी शब्द है जिसका मतलब होता है ‘ईमानदारी’।

सराहा के कुछ टिप्स और ट्रिक्स जानने के लिए यहाँ  विडियो देखिये

इस ऐप को इस्तेमाल करना बेहद आसान है। यूज़र को अपनी सराहा प्रोफाइल बनानी होती है जिसे कोई भी देख सकता है। लॉगइन किए बिना भी कोई यूज़र आपकी प्रोफाइल विज़िट कर सकता है और आपके लिए एक अनजान व्यक्ति के तौर पर मैसेज छोड़ सकता है। अगर सामने वाले यूज़र ने लॉगइन किया है तो भी डिफॉल्ट तौर पर मैसेज भेजने वाले का नाम ज़ाहिर नहीं होता है। लेकिन यूज़र अपनी पहचान को ज़ाहिर करने का विकल्प चुन सकते हैं।

मैसेज रिसाव करने वाले यूज़र के ऐप पर, आने वाले सभी मैसेज इनबॉक्स में दिखते हैं। और आप उन मैसेज को फ्लैग, डिलीट, रिप्लाई करने के अलावा उन्हें बाद में आसानी से खोजने के लिए फेवरेट मार्क कर सकते हैं। ऐप को गूगल प्ले  से मुफ्त डाउनलोड कर सकते हैं। इसके अलावा वेबसाइट पर भी अकाउंट बनाया जा सकता है।

हालांकि, यह ऐप बेहद लोकप्रिय हो रहा है लेकिन इसका एल अलग पहलू भी है। जैसे कि गूगल प्ले पर ऐप को यह आर्टिकल लिखे जाने तक 10,305 बार 5 स्टार रिव्यू मिले लेकिन 9,652 बार 1-स्टार रिव्यू भी मिले हैं। जिससे लगता है कि लोगों की इस ऐप के बारे में राय 50-50 फीसदी बंटी हुई है।

और शायद ऐसा इसलिए भी है कि बिना पहचान बताए ऐप से भेजे जाने वाले मैसेज से नुकसान होने का भी खतरा है। ऐप स्टोर पर कई सकारात्मक रिव्यू में भी चेतावनी दी गई है कि यह ऐप कमजोर दिल वाले लोगों के लिए नहीं है। वहीं एक दूसरे 5-स्टार रिव्यू में बताया गया है कि लोगों को कई नफ़रत भरे मैसेज भी मिल रहे हैं।

sarahah

अब, ऐप के डेवलेपर भी यूज़र के अनुभव को और बेहतर बनाने के इरादे से इसमें कई सुधार कर रहे हैं। ऐप में कई प्राइवेसी फ़ीचर मौज़ूद हैं- जैसे कि सर्च रिज़ल्ट से अपनी प्रोफाइल हटाना, कौन-कौन लोग आपकी प्रोफाइल शेयर कर सकते हैं और आप अनऑथराइज़्ड यूज़र को अपनी प्रोफाइल एक्सेस करने से भी रोक सकते हैं। इसके अलावा आप मैसेज भेजने वाले व्यक्ति को ब्लॉक कर सकते हैं, इसलिए अगर आपको किसी यूज़र का नाम भले ही ना पता हो लेकिन वो आपको दोबारा मैसेज नहीं भेज पाएंगे।

हालांकि, हमने जितनी देर इस ऐप को इस्तेमाल किया हमें इसका अनुभव ठीकठाक लगा। जब आप इसका इस्तेमाल कर रहे होते हैं तो दिमाग में सिर्फ एक उद्देश्य ही रहता है और आप फटाफट मैसेज भेज सकते हैं। ऐप का इंटरफेस और बेहतर किया जा सकता था लेकिन जिस तरह का काम यह ऐप करता है उस हिसाब से इसका डिज़ाइन ठीक ही है।

बता दें कि यह पहला ऐप नहीं है जिसमें बिना नाम बताए किसी को मैसेज भेज सकते हैं। Yik Yak, Secret, और Whisper जैसे दूसरे लोकप्रिय ऐप भी हैं जिनका इस्तेमाल भी बिना पहचान ज़ाहिर किए मैसेज भेजनेके लिए किया जाता है। जहां ये मैसेज ज़्यादा सोशल हैं और लोगों के बीच ज़्यादा संवाद हो रहा है। वहीं सराहा का मुख्य उद्देश्य मैसेजिंग पर है और सोशल मीडिया पर कम। इसलिए दूसरे यूज़र की प्रोफाइल पर जाने से आपको कुछ नहीं मिलेगा, अगर उन्होंने अपनी पोस्ट पब्लिक ना की हो।

फिलहाल, सराहा ऐप की भारत में धूम मची हुई है और लोग फेसबुक, ट्विटर पर जमकर मैसेज को साझा कर रहे हैं। लेकिन हमने दूसरे पहचान छिपाने वाले प्लेटफॉर्म बज़ अप और फिज़ल भी देखे हैं। लेकिन सराहा में कुछ बड़े फर्क भी हैं लेकिन यह कहना अभी जल्दबाजी होगा कि यह ऐप कब तक अपनी लोकप्रियता को कायम रख पाएगा।

Advertisements

android go

Android GO आसान सी भाषा में सस्ते फोन्स के लिए एंड्रायड का लाइटवेट वर्जन है। आज के समय में विश्वभर में 2 बिलियन एंड्रायड डिवाइसेस का इस्तेमाल किया जा रहा है। गूगल अब आगे आने वाली 2 बिलियन डिवाइसेज के बारे में सोच रहा है। यह करने के लिए गूगल एक नए प्रोजेक्ट के साथ आया है। इस प्रोजेक्ट का नाम है Android GO। यह एंड्रायड के आने वाले वर्जन Android O का लाइटवेट वर्जन है। गूगल उन डिवाइसेज पर फोकस कर रहा है जिसके स्पेसिफिकेशन्स कम होते हैं और जहां यूजर्स को सीमित कनेक्टिविटी मिलती है। यह उन डिवाइसेज पर भी कार्य कर सकता है जिसमें 1GB से भी कम मैमोरी मौजूद हो। प्ले स्टोर उन एप्स को हाईलाइट करेगा जो इन सस्ती डिवाइसेज पर चल सकेंगे। इन एप्स का साइज 10MB से कम होना होना चाहिए। इसके साथ ही अगर यूजर इंटरनेट से कनेक्टेड नहीं हैं या रैम कम है तब भी ये सही काम करेंगी।

likes more then views on top youtubers video – get views every second on your video

is video me maine ye bataya hai ke bade bade youtuber jaise technical guruji , unboxing therapy , bb ki vines , etc. ke video pr jb wo upload krte hain us time , views se jyada likes kyun hote hain maine aksar logon ko ye sawaal krte dekha hai isliye maine ye video bana raha hun youtube ki policies and some term iske karan hote hain aur sath me maine ye bhi bataya hai ki kaise kuch log apne channel views ko badhane ke liye extensions ka use krte hain to ye video dekhiye aur jaaniye,,, in extensin ka uoyog kuch aur hai jaise cricket ki live news feed analysis dekhna etc. but some youtubers use this for get thier videos views , . isliye maine ye video banaya hai taki aapko ye baatein samjha sakun

video acchha lage to plz share ke dena yaar aur like bhi ,,,

thanks for watching

apka apna maddy,,..

how to enable monetization and apply for ads – hindi

jab se youtube ne apni youtube partners programe change kiya hai tb se naye youtubers ke man me ye sawaal hai ke jb hamara 10000 views ho jaye to kya krna pdega , to aaj main in sawaalo ke jawab dene wala hun ke agar aapka monetization phle se on hai aur ads ni aa rahe to kya krna hai 10000 views ke baad ,  aur agar abhi tk abhi aapne monetization ke liye apply nhi kiya ha to kya hoga , ya phir jb 10000 views ho jaate hain uske baad ads automatically aane shuru ho jayenge ya apply krna pdega yaa agar aapki channel ko disapprove kr diya jaaye to kya krna hoga in saare sawaalon ke jawab maine  is video me diya hi to  plz aap log dekhiye aur share kr dijiye  ,

 

thanks

 

adhik jaane ke liye ye video dekhiye

 

jo bhi sochoge type ho jayega

सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक जल्द ही एक ऐसी तकनीक पेश करेगी, जिसमें आप जो सोचेंगे वो खुद ब खुद टाइप हो जाएगा। फेसबुक ने इसे Silent Speech Interface का नाम दिया है। यह तकनीक यूजर्स को चैटिंग करने या टाईपिंग करने का एक अलग अनुभव देगी। फेसबुक के इंजीनियरिंग उपाध्याक्ष और सीक्रेटिव बिल्डिंग 8 के हेड रेजिना डुगन ने बताया भविष्य नई और बेहतर तकनीकों से भरा हुआ है, जो हमें बिना टाइप किए लोगों से संवाद करने में सक्षम बनाएगी।

रेजिना डुगन ने की घोषणा:

डुगन ने कंप्यूटर इंटरफेस की घोषणा की है। उन्होंने कहा है कि इस इंटरफेस पर फेसबुक में 60 लोगों की एक टीम ह्यूमन ब्रेन द्वारा संचालित होने वाले इस सिस्टम पर काम कर रही है। इस सिस्टम के जरिए यूजर की Neural activity को डिकोड किया जाता है। साथ ही यह सिस्टम 100 शब्द प्रति मिनट की स्पीड से टाइप कर सकता है। उदाहरण के तौर पर: जिस स्पीड से हम स्मार्टफोन में टाइप करते हैं, उससे 5 गुना ज्यादा तेज यह सिस्टम टाइप कर सकता है।

फेसबुक ने कहा कि यह तकनीक उन लोगों की मदद करेगी, जो ठीक तरह से संवाद करने में सक्षम नहीं होते। ऐसा माना जा रहा है कि फेसबुक की यह टेक्नोलॉजी काफी आगे का सोचकर और भविष्य को बेहतर करने के लिए बनाई गई है। इसके साथ ही फेसबुक ने एक ऐसी तकनीक को भी पेश किया है कि जिसके जरिए स्कीन द्वारा आवाज को सुना जा सकेगा। इसे ऑक्लस रिसर्च के प्रमुख वैज्ञानिक माइकल अब्रैश ने एआर चश्मा ने पेश किया है।

अधिक जानकारी के लिए ये विडियो देखिएं

व्हाट्सऐप ग्रुप से अफवाह फैली तो ग्रुप एडमिन पर भी होगी कार्रवाई: अधिकारी

भ्रामक खबरों और अफवाहों पर लगाम कसने के लिए वाराणसी के जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने एक संयुक्त आदेश जारी कर हिदायत दी है कि सोशल मीडिया और वाट्सऐप पर किसी भी अफवाह, गलत तथ्यों से भरी या समाजिक समरसता के विरूद्ध पोस्ट पाए जाने पर संबंधित व्यक्ति के साथ ही ग्रुप एडमिन पर भी कडी कार्रवाई की जाएगी।

जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्रा और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नितिन तिवारी द्वारा संयुक्त रूप से जारी आदेश में कहा गया है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता अत्यंत महत्वपूर्ण है तथा सोशल मीडिया पर स्वतंत्रता के साथ ही जिम्मेदारी भी आवश्यक है।

आदेश में कहा गया है कि एडमिन वही बने जो उस ग्रुप की पूरी जिम्मेदारी उठाने में समर्थ हो और ग्रुप के सभी सदस्यों से परिचित हो। कोई सदस्य गलत बयानी, बिना पुष्टि के समाचार जो अफवाह बन जाये, पोस्ट करता है तो एडमिन खंडन के साथ ऐसे सदस्य को फौरन ग्रुप से हटाये।

अफवाह भ्रामक तथ्य व सामाजिक समरसता के विरूद्ध पोस्ट होने पर फौरन सम्बधित थाने को सूचित करे। ग्रुप एडमिन के कार्रवाई न करने पर उन्हें भी इसका दोषी माना जायेगा और उन्के विरूद्ध भी कार्रवाई की जायेगी। ऐसे मामलों में कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

शार्प एक्वॉस आर में है 4 जीबी रैम और स्नैपड्रैगन 835 प्रोसेसर, जानें सारी ख़ूबियां

जापान की स्मार्टफोन निर्माता कंपनी शार्प ने अपना नया स्मार्टफोन एक्वॉस आर जापान में लॉन्च कर दिया है। शार्प एक्वॉस आर स्मार्टफोन कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट पर लिस्ट कर दिया गया है। कंपनी ने अभी नए शार्प एक्वॉस आर हैंडसेट की कीमत का खुलासा नहीं किया है। लेकिन संकत दिए हैं कि यह एक हाई-एंड कॉम्पैक्ट डिवाइस होगा। यह फोन जल्द ही जापान में खरीदने के लिए उपलब्ध होगा लेकिन कंपनी ने दूसरे बाजारों में इस फोन की उपलब्धता की कोई जानकारी नहीं दी।

शार्प एक्वॉस आर में 5.3 इंच डब्ल्यूक्वाडएचडी ( 2560 x 1440 पिक्सल ) आईजीज़ेडओ डिस्प्ले दिया हो जो एचडीआर 10 सपोर्ट से लैस है। इस फोन में डिस्प्ले के ठीक नीचे एक होम बटन है जबकि दांयीं तरफ एक पावर/लॉक, वॉल्यूम बटन हैं। एक्वॉस आर में स्नैपड्रैगन 835 64-बिट ऑक्टा-कोर प्रोसेसर दिया गया है। शार्प एक्वॉस आर में 4 जीबी रैम और 64 जीबी इनबिल्ट स्टोरेज है। यह फोन मेटल का बना है।

कैमरे की बात करें तो, शार्प एक्वॉस आर में 22.6 मेगापिक्सल कैमरा है जो अपर्चर एफ/1.9, वाइड-एंगल लेंस, ऑटोफोकस, ओआईएस और 35 एमएम लेंस के साथ आता है। फोन में सेल्फी और वीडियो चैटिंग के लिए 16 मेगापिक्सल का कैमरा है जो वाइड एंगल लेंस के साथ आता है।

शार्प एक्वॉस आर एंड्रॉयड 7.1 नूगा पर चलता है। इस फोन को पावर देने के लिए 3160 एमएएच की बैटरी दी गई है। फोन में फास्ट चार्जिंग के लिए क्विक चार्ज 3.0 टेक्नोलॉजी दी गई है। यह एक वाटर और डस्ट रेसिस्टेंट स्मार्टफोन है जो आईपीएक्स 8 सर्टिफिकेट के साथ आता है। फोन में नीचे की तरफ टाइप-सी यूएसबी पोर्ट है। इस फोन का डाइमेंशन 153 x 74 x 8.7 मिलीमीटर है।

 

track any vehicle with its number- किसी भी वाहन के नंबर से उसके मालिक का पता लगायें

yahaan maine ye bataya hai ke kaise aap kisi bike ya car ya truck ke number se uske maalik ka detail nikal skte hain to video dekhiye aur sikhiye ke number se vehicle owner ka detail kaise pata karna hai

ताकि यदि कोई बुरी दुर्घटना हो जाने की स्थिति हो तब आप किसी भी वाहन के नंबर से उसके मालिक की डिटेल निकाल सकें

 

youtube changed his live system only 1000 subscriber needs for live

to know more watch this video

For better or worse, mobile live-streaming has grown in popularity in recent years, especially after social media giants like Facebook and Twitter adopted the feature. Of course, with video taking precedence in these sites, Google-owned YouTube cannot risk falling back. To rope in more YouTubers on to live streaming, YouTube is now letting anyone with a minimum subscriber base of 1,000 to enable mobile live streaming.

YouTube in February rolled out live broadcast for mobile users. However, the condition was that only those YouTubers with a subscriber base of over 10,000 could use the feature. This didn’t help many out there who fell short of that number. According to a YouTube support page, the company now confirms that anyone with at least a 1,000 subscribers can enable live streaming on mobile.
Once you reach the 1,000 subscriber mark, you can live stream by first enabling the live streaming option in Creator Studio tools. Open the YouTube mobile app on Android (6.0 and above) or iOS (iOS 8 or above) and hit the capture button and start live streaming. YouTube will also keep an archive of the stream and you’ll have the option to edit the privacy settings or delete the archive.

Live streaming on social media has received some unfavourable publicity in the past few days since the Cleveland killing where a gunman in reportedly murdered a man live on Facebook. The incident has prompted the social media giant to review how it handles video content, especially live video broadcasting.

For the latest tech news and reviews, follow Gadgets 360 on Twitter, Facebook, and subscribe to our YouTube channel.

youtube ने आज से अपना लाइव सिस्टम  change कर दिया है आज से आप के पास अगर १००० सब्सक्राइबर हैं तो आप लाइव आ सकते हैं,

sbhi ye question krte the ke youtube pr live aane ke liye kitne subscriber chahiye to aaj se ye bata dun ke sirf 1000 sub hone pr aap youtube pr live aa skte hain,,